रोस्टर प्रक्रिया

विश्वविद्यालयों में स्वीकृत पदों के क्रम - निर्धारण को " रोस्टर " कहा जाता है। दरअसल रोस्टर का क्रम - निर्धारण ही मनुवादी है - पहले सामान्य, फिर ओबीसी, तब एससी और आखिर में एसटी। अर्थात हम पहले मजबूत तबकों को न्याय देकर फिर समाज के कमजोर तबकों को हिस्सेदारी दे रहे हैं।

यह रोस्टर संविधानवादी तब होगा, जब हम सामाजिक न्याय/ राष्ट्रनिर्माण का ख्याल रखेंगे - पहले एसटी, फिर एससी, तब ओबीसी और आखिर में सामान्य। अर्थात हम पहले कमजोर तबकों को न्याय देकर फिर समाज के मजबूत तबकों को हिस्सेदारी देंगे।

भारत की हर पद्धति में सूक्ष्म ढंग से मनुवादी विचार समाया रहता है। रोस्टर का क्रम- निर्धारण भी इसका अपवाद नहीं है। यह प्रकारांतर से वर्ण - व्यवस्था के हिसाब से है, न कि संविधान हिसाब से है।   (फेसबुक से साभार)
Read more ...

अभिभावक गौर फरमाएं- बी आर पंडीर

#WhatsApp पर मिला अपने पाठकों से साझा कर रहा हूँ ।#
------------------ 
कोटा में आत्महत्या करने वाली छात्रा कृति ने अपने सुसाइड नोट में लिखा था कि :-"मैं भारत सरकार और मानव संसाधन मंत्रालय से कहना चाहती हूं कि अगर वो चाहते हैं कि कोई बच्चा न मरे तो जितनी जल्दी हो सके इन कोचिंग संस्थानों को बंद करवा दें,
ये कोचिंग छात्रों को खोखला कर देते हैं। पढ़ने का इतना दबाव होता है कि बच्चे बोझ तले दब जाते हैं। 
कृति ने लिखा है कि वो कोटा में कई छात्रों को डिप्रेशन और स्ट्रेस से बाहर निकालकर सुसाईड करने से रोकने में सफल हुई लेकिन खुद को नहीं रोक सकी।बहुत लोगों को विश्वास नहीं होगा कि मेरे जैसी लड़की जिसके 90+ मार्क्स हो वो सुसाइड भी कर सकती है,लेकिन मैं आपलोगों को समझा नहीं सकती कि मेरे दिमाग और दिल में कितनी नफरत भरी है।

अपनी मां के लिए उसने लिखा- "आपने मेरे बचपन और बच्चा होने का फायदा उठाया और मुझे विज्ञान पसंद करने के लिए मजबूर करती रहीं। मैं भी विज्ञान पढ़ती रहीं ताकि आपको खुश रख सकूं। मैं क्वांटम फिजिक्स और एस्ट्रोफिजिक्स जैसे विषयों को पसंद करने लगी और उसमें ही बीएससी करना चाहती थी लेकिन मैं आपको बता दूं कि मुझे आज भी अंग्रेजी साहित्य और इतिहास बहुत अच्छा लगता है क्योंकि ये मुझे मेरे अंधकार के वक्त में मुझे बाहर निकालते हैं।" 
कृति अपनी मां को चेतावनी देती है कि- 'इस तरह की चालाकी और मजबूर करनेवाली हरकत 11 वीं क्लास में पढ़नेवाली छोटी बहन से मत करना,वो जो बनना चाहती है और जो पढ़ना चाहती है उसे वो करने देना क्योंकि वो उस काम में सबसे अच्छा कर सकती है जिससे वो प्यार करती है।

इसको पढ़कर मेरा मन भी विचलित हो गया कि इस होड़-म-होड़ में हम अपने बच्चों के सपनो को छीन रहे है। आज हम लोग अपने परिवारों से प्रतिस्पर्धा करने लगे है कि फलां का बेटा-बेटी डॉक्टर बन गया,हमें भी डॉक्टर बनाना है। फलां की बेटी-बेटा सीकर/कोटा हॉस्टल में है तो हम भी वही पढ़ाएंगे,चाहे उस बच्चे के सपने कुछ भी हो...हम उन्हें अपने सपने थोंप रहे है। 
आज हमारे स्कूल(कोचिंग संस्थान) बच्चों को परिवारिक रिश्तों का महत्व नही सीखा पा रहे,उन्हें असफलताओं या समस्याओं से लड़ना नही सीखा पा रहे। उनके जहन में सिर्फ एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा के भाव भरे जा रहे है जो जहर बनकर उनकी जिंदगियां लील रहा है। जो कमजोर है वो आत्महत्या कर रहा है व थोड़ा मजबूत है वो नशे की ओर बढ़ रहा है।
जब हमारे बच्चे असफलताओ से टूट जाते है तो उन्हें ये पता ही नही है कि इससे कैसे निपटा जाएं। उनका कोमल हदय इस नाकामी से टूट जाता है इसी वजह से आत्महत्या बढ़ रही है।
👉 #अभिभावकों_से_निवेदन- आप अपने बच्चों से दोस्त बनकर बातचीत करते रहें,उनके असफलता को उनकी कमजोरी मत बनने देवे।
Read more ...

Kullu Seminar 2016

हिमाचल प्रदेश कोली समाज की नई कार्यकारणी का गठन कर लिया गया है। जिसमें सर्वसम्मती से रोशन लाल डोगरा को  प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया है।

 

















Read more ...

रोशन लाल डोगरा दूसरी बार प्रदेशाध्यक्ष

हिमाचल प्रदेश कोली समाज की नई कार्यकारणी का गठन कर लिया गया है। जिसमें सर्वसम्मती से रोशन लाल डोगरा को दूसरी बार प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया है। सोलन में आयोजित 10वें सम्‍मेलन में अगले तीन सालों के लिए कार्यकारिणी की घोषणा कर दी गई है। अच्छर पाल कौशल को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, रतन कश्यप और अमित नन्दा को उपाध्यक्ष, उतम कश्यप को महासचिव, नरेश कश्यप को संगठन सचिव, सतीश आर्य को कार्यालय सचिव, लायक राम कश्यप को वित सचिव और सन्तोष कुमार को प्रैस सचिव नियुक्‍त किया गया।
सोलन में आयोजित इस सम्‍मेलन में अखिल भारतीय कोली समाज के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सत्‍यनारायण पंवार, डा0 कर्नल धनी राम शांडिल समाजिक अधिकारिता मंत्री, सांसद वीरेन्‍द्र कश्‍यप, अखिल भारतीय कोली समाज के महासचिव हरि शंकर मोहार, राजस्‍थान कोली समाज के अध्‍यक्ष नत्‍थू लाल, द्रोपदी देवी, संसदीय सचिव विनय कुमार, विधायक सुरेश कश्‍यप, कैलाश फेडरेशन के पूर्व चेयरमैन बृज लाल, कोली समाज कांगड़ा के अध्‍यक्ष पंजाब सिंह, सिरमौर के जिला अध्‍यक्ष रतन कश्‍यप, सोलन के जिला अध्‍यक्ष आंनन्‍द चौहान, शिमला के अध्‍यक्ष उतम कश्‍यप, महिला संयोजक आशा कश्‍यप, सुनीता कश्‍यप, युवा संयोजक केशव राम, संगठन सचिव गोपाल झिल्‍टा, वित सचिव जगजीत सिंह, महासचिव जगदीश चंद, बी आर तनवर, शिव चंद रोखा, धर्म पाल, विनोद सुल्‍तानपुरी, केदार सिंह जिंदान, और जिला परिषद एवं पंचायती राज संस्‍था के वर्तमान और भूतपूर्व पदाधिकारियों ने भाग लिया। 
Read more ...

कोली समाज का देश के लिए अहम योगदान : शांडिल

 हिमाचल प्रदेश कोली समाज सभा का प्रदेशस्तरीय सम्मेलन रविवार को सोलन के संस्कृत कॉलेज में आयोजित किया गया। इसमें कि प्रदेश सहित देश के विभिन्न भागों से कोली समाज सभा से जुड़े लोगों ने भाग लिया। सभा के इस 10वें प्रदेशस्तरीय सम्मेलन में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री कर्नल धनीराम शाडिल ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। कार्यक्रम में मुख्य संसदीय सचिव विनय कुमार, सांसद वीरेद्र कश्यप व पच्छाद विधायक सुरेश कश्यप ने विशेष रूप से शिरकत की। इस मौके पर कर्नल धनीराम शांडिल कहा कि कोली समाज का देश के लिए अहम योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि कोली जाति का इतिहास पुस्तक में इससे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी का उल्लेख किया गया है। इसमें समाज के 27 महान पुरुषों के उदाहरण दिए गए है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम हो या अन्य सामाजिक कार्य कोली समाज के लोगों का अहम योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि देश के विकास में किसी एक राजनीतिक दल या किसी संस्था का हाथ नहीं है। इसके पीछे समाज से जुड़े हरेक व्यक्ति का हाथ रहता है। उन्होंने कहा कि समाज के लोगों की माग पर प्रदेश मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से प्रदेश में कोली समाज बोर्ड के गठन की माग की जाएगी ।  इसके अलावा सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से कोली समाज को सामुदायिक भवन निर्माण के लिए धनराशि भी मुहैया करवाने का ऐलान किया है। रविवार को आयोजित कार्यक्रम में कोली समाज प्रदेशाध्यक्ष आरएल डोगरा, पूर्व सांसद एवं अखिल भारतीय कोली समाज संरक्षक रामनाथ गोविंद, पूर्व सांसद एवं अध्यक्ष अखिल भारतीय कोली समाज के अध्यक्ष सत्य नारायण पंवार, आनंद चौहान सहित कोली समाज के अन्य पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद रहे।
Read more ...

सोलन में 26 मई 2013 को 10वां राज्‍य स्‍तरीय सभा

हिमाचल कोली समाज की 10 वीं राज्‍य स्‍तरीय सभा का आयोजन 26 मई 2013 को राजकीय संस्‍कृत महाविद्यालय सोलन में किया जा रहा है।इस सम्‍मेलन में देश और प्रदेश से स्‍वजातीय और समाज प्रेमी सम्मिलित होंगे। विशेषकर अखिल भारतीय कोली समाज का नेतृत्‍व इस सम्‍मेलन में पहुंचेगा। मुख्‍यातिथि डा0 कर्नल धनी राम शांडिल सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता तथा सैनिक कल्‍याण मंत्री, लोक सभा सांसद विरेन्‍द्र कश्‍यप, मुख्‍य संसदीय सचिव विनय कुमार होंगे। वर्तमान एवं भूतपूर्व विधायक सांसद अध्‍यक्ष जिला परिषद एवं पंचायती राज संस्‍था के पदाधिकारी सम्‍मेलन की शोभा बढ़ाऐंगे। सम्‍मेलन में अगले तीन वर्षों के लिए प्रदेश कोली समाज की नई कार्यकारिणी भी घोषित की जाऐगी। सम्मेलन में आमंत्रित सुझावों पर विस्तार से चर्चा होगी। समाज की सरकार से मुख्य मागें, कोली समाज के नाम पर समुदाय भवन बनाने के लिए सरकार द्वारा सहयोग, कोली समाज कल्याण बोर्ड का गठन, 85वा संविधान संशोधन लागू करना, प्रदेश में पंचायतों द्वारा बाटी गई शामलात भूमि पर मालिकाना हक दिया जाना, अनुसूचित जाति के उत्थान के लिए विशेष योजनाएं बिना किसी भेदभाव के कार्यान्वित की जाए और कोली समाज के समुदाय के साथ हो रहे अत्याचार बंद हो और अत्याचार करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई हो। समाज के सदस्‍य और अन्‍य लोग सादर आमंत्रित है।
Read more ...

कोली समाज कल्याण बोर्ड के गठन की मांग

हिमाचल प्रदेश कोली समाज के लोग प्रदेशाध्यक्ष श्री रोशन लाल डोगरा के नेतृत्व में कार्यकारिणी सदस्य अपनी मांगो को लेकर मु यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल से उनके निवास स्थान ऑकओवर में मिले। समाज के सदस्यों ने मुख्यमंत्री से प्रदेश में कोली समाज कल्याण बोर्ड के गठन व 85वां संशोधन लागू करने की मांग की, जिस पर मुख्यमंत्री ने कल्याण बोर्ड के गठन पर विचार के लिए कहा है और 85वें संशोधन मामले पर कहा कि इस पर सरकार विचार कर रही है। कोली समाज के लोगो ने आगामी माह में सोलन जिला में होने जा रहे महा सम्मेलन के लिए मु यमंत्री बतौर मुख्यअतिथि आमंत्रित किया है। इस मौके पर भाजपा के सासंद श्री वीरेन्द्र कश्यप कैलाश फैडरेशन के अध्यक्ष श्री बृजलाल, पूर्व जिला परिषद् अध्यक्ष शिमला श्री दूलोराम हांस्टा, कोली समाज के प्रदेश सचिव गोपाल झिल्टा, श्री शक्त राम कश्यप, प्रचार सचिव श्री रमेश चंद, डॉ. शिव चंद रोखा, श्री देवराज कश्यप सहित समाज के सैंकड़ो लोग शामिल थे
Read more ...